ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय संस्कृत समाचार तिथि / पंचाग कथा / कहानियां शास्त्रों से धार्मिक पर्यटन स्थल विचार / लेख
हम कश्मिर को गुजरात की तरह समृध्ध बनायेंगेःप्रवासी कश्मिरी युवाओ का प्रण
February 29, 2020 • Admin

(जी.एन.एस) ता. 28
जम्मु/अहमदाबाद
(रविन्द्र भदौरिया)
जम्मु-कश्मीर युवा एक्सचेंन्ज प्रोग्राम और नेहरु युवा केन्द्र संगठन द्वारा कश्मीर के 140 युवाओं को गुजरात के स्टडी दौरे पर लाये गये. जहां पर गांधी के गुजरात में कशमीरी युवाओं को एक नई पहल, एक नई सोच और एक नया भाईचारा देखने को मिला। आज गुजरात के प्रवास में आये कश्मिर के 140 युवाओं ने मिडिया से बीत करते हुये बताया कि आज कश्मीर में लडाई,झगडें और दंगे आज तक हमने देखें हे लेकिन गुजरात आने के बाद महसुस हुआ कि एक एसी भी दुनिया है जहां पर भाईचारां अमन और शांति है, और हम भी अब काश्मीर में शांति,अमन,भाईचारा चाहते है।
कश्मीर में हमें हररोज दंगो के अलावा और कुछ देखने को ही नही मिलता था। कई महिनों तक इन्टरनेट जैसी बुनियादी सुविधायें बंद कर दी जाती है जिससे हमें अन्य राज्यो की भी जानकारी प्राप्त नही हो पाती थी. लेकिन अब हमें भी गांधी विचारधारा के तहत सोच बदलनी है। इस सोच के साथ काशमीर का सर्वांगीण विकास होगा। काश्मीर में रोजगार जेसी कोई सुविधा नही है। कोई काम हमारे जेसा युवा वर्ग के पास नहीं है जिससे हम अपना जीवन व्यतीत कर संके। इसलिए अब हमें भी गुजरात के लोगों के जेसा ही प्रगतिशील बनना है और जीवन में आगे बढने के लिये आपसी लोगों में भाईचारा बांटना है।
कश्मीर से आये शोहील नामक युवक ने बताया कि आज हमें नेहरु युवा केन्द्र संगठन के माध्यम से गुजरात लाया गया है जिसमें हमने गांधीनगर में महात्मा मंदिर, दांडी कुटीर, इन्द्रोडा पार्क, सरिता उद्यान, ESI सुघड, मधुर डेरी, ग्राम टेक्नोलोजी, गुजरात विधानसभा का भी निरिक्षण किया । लेकिन अभी दिन कुछ समय बाकी है इसलिये गुजरात के अहमदाबाद के गांधी आश्रम, साबरमती, उसके बाद वडोदरा केवडिया के निकट स्टेच्यु ओफ युनिटी का भी दिदार करेगें और उसके बाद अपने वतन जाकर इस चीजों से वहां के लोगों को वाकिफ कर वहां भी शांति,अमन भाईचारे का माहौल बनाने की हरसंभव कोशिश करेंगे ये हमारा वादा है. हम कश्मिर को तूटने नहीं देंगे,. हम कश्मिर को बिखेरने नहीं देंगेकश्मिर को गुजरात की तरह समृध्ध बनाने का प्रयास करेंगे. हमारी इस मुलाकात के लिये हम प्रधानमंत्री नरेन्द्रभाई मोदीजी के भी आभारी है।