ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय संस्कृत समाचार तिथि / पंचाग कथा / कहानियां शास्त्रों से धार्मिक पर्यटन स्थल विचार / लेख
लखनऊ:कोरोना वाइरस एक ‘‘घातक बीमारी’’ है डरें नही उपाय अपनायें,इस्लामिक सेन्टर में सभी धार्मिक लीडरों की संयुक्त अपील
March 20, 2020 • Admin

लखनऊ। भयानक कोरोना वाइरस एक अन्तर्राष्ट्रीय बीमारी है। हम सबको इसका मुकाबला भरपूर तरीके से करना चाहिए। स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदारों और डाक्टरों ने इस रोग से एहतियात और बचाव के जो तरीके बतायें हैं उन पर गम्भीरता से अमल करना चाहिए। इन शब्दों के साथ धार्मिक लीडरों ने तमाम नागरिकों से जज्बाती अपील की कि वह अपनी अपनी औलाद और अन्य लोगों के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए वह काम न करें जिनसे यह भयानक रोग और न फैले। मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली इमाम ईदगाह लखनऊ ने कोरोना वाइरस से मरने वालों पर अफसोस का इज्हार किया और प्रभावित लोगों के लिए दुआ की। उन्होने कहा कि इस्लामी शिक्षा व आदेशों के अनुसार कोई एैसी बीमारी नही है जिसकी दवा खुदा पाक ने न पैदा की हो। नबी पाक सल्ल0 की हिदायत है कि अगर कोई बीमारी फैले तो न तो वहाॅ जाओ और न वहाॅ से भागो। उन्होने कहा कि इस समय मेडिकल साइंसदानों की अहम् जिम्मेदारी है कि वह खतरनाक बीमारी से बचाव की उचित दवा जल्द से जल्द बनायें ताकि इंसानियत की सुरक्षा की जा सके। मौलाना फरंगी महली ने कहा कि उपाय बेहतरीन इलाज है। बीमारी से डरने के बजाये उसका इलाज करना चाहिए। उन्होन कहा कि इस्लाम में सफाई और पाकीजा चीजों के खाने के जो आदेश हैं उन पर पूरी तरह अमल करना चाहिए। धार्मिक लीडरों ने निम्नलिखित बिन्दुओं पर आधारित ज्ञापन को एक मत होकर स्वीकृत किया। करोना वाइरस जो एक भयानक रोग है लेकिन इससे डरने की बिलकुल जरूरत नही है बल्कि इससे आसानी से सुरक्षित रहा जा सकता है अगर करोना वाइरस के सिलसिले में डाक्टर और सरकार की ओर से जो उपाय बताये गए हैं उनपर सभी धर्मों के लोग और पूरा देश अमल करे। जिसको भी खाॅसी, नजला, जुकाम या बुखार हो उसको चाहिए कि इस को छुपाये नही बल्कि डाक्टर से तुरन्त सम्पर्क करे। पराईवेट डाक्टरों और अस्पतालों और पराईवेट पैथालोजी के जिम्मेदारों से अपील है कि इस भयानक रोग का मुकाबला करने के लिए अवाम का पूरा साथ दें और हर प्रकार की सुहूलतें उपलब्ध करायें। सरकार से अपील है कि मास्क और सेनेटाईजर की ब्लेक मार्केटिंग पर रोक लगायी जाए और उनको कम से कम मूल्य पर अवाम को उपलब्ध कराया जाए। एन0जी0ओ0 और समाज सेवा में सरगरम संस्थानाअें और संस्थाओं से भी अपील है कि वह इस सिलसिले में आगे आयें। सभी धार्मिक लीडरों से अपील है कि अपनी अपनी इबादतगाहों में अधिक भीड़ न होने दें। इस दौरान कोई भी जलसा या प्रोग्राम न करें। अवाम से विशेष तौर पर अपील है कि अपने घर, मोहल्ले और आस पास में सफाई सुत्थराई पर विशेष ध्यान दें। सभी धार्मिक लीडरों से यह अपील है कि इस सिलसिले में अपने अपने धर्म के मानने वालों से इस बीमारी से बचाव के उपायों के सिलसिले में बेदारी पैदा करें। सभी धार्मिक लीडरों ने इस अवसर जिन लोगों की इस बीमारी से मृत्यु हुई है उन पर अपने दुख का इज्हार किया और खुदा से इस बीमारी से पूरे देश और पूरी दुनिया की सुरक्षा और जो लोग इस से प्रभावित हैं उनकी जल्द से जल्द सेहत के लिद दुआ कीं।