ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय संस्कृत समाचार तिथि / पंचाग कथा / कहानियां शास्त्रों से धार्मिक पर्यटन स्थल विचार / लेख
मोबाईल चोर खरीददार सहित आठ आरोपी गिरफ्तार, 124 मोबाईल हैंडसेट बरामद
February 25, 2020 • Admin

मोबाईल चोरों की टोली व खरीददार दुकान वालों सहित आठ आरोपी, क्राईम ब्रांच इन्दौर की गिरफ्त में

भीडभाड व सुनसान इलाकों मे समूह के रूप मे चोरी, छीना-झपटी के कुल  124 मोबाईल हैंडसेट बरामद
 
मोबाईल का लाॅक तोड़ने व आईएमईआई चेंज करने के संबध मे 02 आरोपीयों से 2 लेपटाप व कई साॅफ्टवेयर टूल भी हुए बरामद 

सभी गिरफ्तार आरोपियों के विरूध्द दर्ज है संपत्ति संबधी अपराध पंजीबद्

इन्दौर।" alt="" aria-hidden="true" />" alt="" aria-hidden="true" />" alt="" aria-hidden="true" /> पुलिस महानिरीक्षक विवेक शर्मा व्दारा शहर मे चोरी व अन्य अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु प्रभावी कार्यवाही के निर्देश इन्दौर पुलिस को दिए गए थे। उक्त निर्देशो के अनुक्रम में पुलिस उपमहानिरीक्षक इन्दौर (शहर)  रूचिवर्धन मिश्र द्वारा पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय)  सूरज वर्मा के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम ब्रांच व उनकी टीमों को इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही करने हेतु लगाया गया था। इसी अनुक्रम में क्राईम ब्रांच इन्दौर की टीम व्दारा शहर मे राह चलते भीड भाड वाले स्थानों व बाजारों एवं सुनसान ईलाकों से राहगीरों से मोबाईल हैंडसेट चोरी तथा छीनाझपटी करने वाले संदिग्धों के संबध मे आसूचना संकलित की गई तब टीम को यह ज्ञात हुआ थाना-एम.जी. रोड क्षेत्रांतर्गत चिमनबाग ग्रांउड पर 03 व्यक्ति चोरी के मोबाईलों की खरीद फरोक्त कर रहे है। ज्ञात सूचना पर क्राईम ब्रांच की टीम ने तलाष करते हुये तीन आरोपियों दीपक पिता संतोष दागवानी, विजय पिता राजाराम भालसे, विनोद पिता संजीव मंसारे  इन्दौर को पकड़ा। जिनके पास से बरामद मोबाईल हैंडसेट के संबध मे कोई संतोषप्रद जवाब नहीं मिला ना ही उनके बिल तथा अन्य दस्तावेज मिले। वैध स्वामित्व के दस्वतावेज प्रस्तुत नही करने पर चोरी व अन्य अपराधों के संदेह मे विभिन्न कंपनियों के कुल 55 नग मोबाईल हैंडसेट जप्त किए गए उक्त बदमाशों से पूछताछ करने पर अपराध में शामिल चोरी के मोबाईल खरीदने व साफ्टवेयर लाॅक तोड़ने व आईएमईआई नंबर बदलने की घटनाओं का खुलासा किया गया। तीनों बदमाश उनके व्दारा जो मोबाईल चोरी किए जाते थे वह 4. इकबाल हुसैन पिता अब्दुल हुसैन -इन्दौर को विक्रय करने देते थे। इकबाल हुसैन उक्त चोरी के मोबाईल नावेल्टी मार्केट के दुकानदर मोहित उर्फ टिंकु पिता राजेन्द्र जाधानी व विक्की उर्फ चुस्सु पिता जगदीश  को बेचता था,  शुभम पिता हिम्मत सोलंकी व. रमन पिता कुशल सिंह परमार  जिनकी भी जेल रोड पर साफ्टवेयर की दुकानें है यह लोग उन मोबाईल हैण्डसेट का पेटर्न लाॅक तोडकर उनके आईएमईआई नंबर व साफ्टवेयर में छेडछाड कर बेच देते थे। उक्त सभी आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है।
       सभी 8 आरेापियों को गिरफ्तार कर उन सभी के कब्जे से विभिन्न कंपनीयों के कुल-124 मोबाईल, दो लेपटॉप SONY VAIO, LENOVO कम्पनी के, डोंगल, मिरेकल बॉक्स-02 नग, एविएटर टूल-01 नग, AE टूल-01 नग मय कनेक्टर के, UFS3 टूल-02 नगर्, Z3X टूल-03 नग SE टूल बॉक्स-01, वॉलकेनो बॉक्स-02 मय जैक व केबल आदि सामान को जप्त किया गया। आरोपीगणो से प्रारंभिक पूछताछ पर उन्होंनें बताया कि इनके व्दारा चोरी व अन्य आपराधिक मामलों के मोबाईल हैंडसेट जेल रोड इन्दौर की मोबाईल वाली दुकानों पर कम दामों बेचे जाते थे और उक्त मोबाईलों को दुकान संचालक व कर्मचारी लेपटाप व साफ्टवेयर की मदद से संदिग्ध मोबाईलों के पेटर्न लाक तोडकर उसके आईएमईआई व साफ्टवेयर के साथ भी छेडछाड कर ग्राहकों को फर्जी बिल के आधार पर विक्रय करते थे। आरोपीगणों से पूछताछ करने पर उनके व्दारा यह जानकारी दी गई कि जेल रोड पर स्थित डालर मार्केट, नावेल्टी मार्केट पर दुकानदार इस तरह के काम संचालित करके मोबाईलों का क्रय - विक्रय करने का काम करते है इस संबध मे आरोपीगणों से अन्य दुकानदारों के संबध मे जानकारी एकत्र करने की कार्यवाही की जा रही है ।  आरोपियों से पूछताछ करने पर उनके बताया गया कि वह लोग  विगत 4-5 वर्षों से इस प्रकार के काम कर रहे है उनके व्दारा जप्तशुदा मोबाइल कहां से चुराए हैं? , कब चुराए है? और कितने चुराए है ? इस संबध मे जानकारी ज्ञात की जा रही है। यह लोग चोरी के टोली के समूह के रूप मे इन्दौर शहर मे अपराध घटित करते थे, उक्त आरोपीगणों के विरूध्द थाना अपराध शाखा जिला इन्दौर पर अपराध क्रमांक 01/20 धारा 41(1(4) ,102 जा.फौ. एवं धारा 379, 403, 411 भादवि का अपराध पंजीबद्द कर विवेचना मे लिया गया ।