ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय संस्कृत समाचार तिथि / पंचाग कथा / कहानियां शास्त्रों से धार्मिक पर्यटन स्थल विचार / लेख
पांचवें दिन भी धान को लेकर हंगामा
February 29, 2020 • Admin

(जी.एन.एस) ता. 28
रायपुर
छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र के पांचवें दिन सदन में धान खरीदी के मुद्दे को लेकर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। मंत्री अमरजीत भगत के जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्यों ने इस दौरान सदन में गर्भगृह तक जाकर हंगामेबाजी की। इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक सहित 11 विधायकों को जमकर हंगामा किया। विपक्ष के सदस्य हंगामा करते हुए गर्भगृह तक जा पहुंचे। इस हंगामे के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने पूर्व सीएम रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक सहित भाजपा के 11 सदस्यों को निलंबित कर दिया साथ ही सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित की गई।
धान के मुद्दे पर प्रश्नकाल में विपक्ष ने सरकार से यह जानना चाहा कि कितने किसानों ने पंजीकृत रकबे का पूरा धान बेचा। मंत्री अमरजीत भगत ने बताया कि 33146 किसानों ने पूरा धान बेचा। मंत्री अमरजीत भगत ने सदन में बताया कि प्रदेश में इस साल 19 लाख 55 हजार 465 किसानों का पंजीयन हुआ था, जिसनें से 33 हजार 146 किसानों ने प्रदेश में शत प्रतिशत धान बेचा।
भाजपा ने सदन में कहा 19 लाख से ज्यादा किसानों का धान शत प्रतिशत नहीं खरीदा गया है। किसानों का धान कब खरीदा जाएगा इस सवाल पर इसकी घोषणा करने की मांग की गई। विधानसभा में विपक्ष धान के मुद्दे पर सरकार को पूरी तरह घेरने की रणनीति से पहुंचा था। पांचवे दिन सदन की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा सदस्यों ने लगातार अपने सवालों के साथ मंत्री को घेरना शुरू कर दिया। इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक मोहन मरकाम ने हस्क्षेप भी किया। मंत्री के हर जवाब से विपक्ष असंतुष्ट नजर आया और सदन में तल्खी बढ़ती गई। विधानसभा अध्यक्ष द्वारा सवाल पर चर्चा के लिए समय का हवाला देने पर विपक्षी सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया और गर्भगृह में पहुंच गए।