ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय संस्कृत समाचार तिथि / पंचाग कथा / कहानियां शास्त्रों से धार्मिक पर्यटन स्थल विचार / लेख
सीतापुर: संचारी रोग अभियान का पहला चरण 1 मार्च से 31 मार्च तक चलेगा अभियान
February 26, 2020 • Admin

संचारी रोग नियंत्रण अभियान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का महत्वाकांक्षी अभियान है। इस क्रम में पूरे सूबे में 1 मार्च से संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जाएगा जो 31 मार्च तक चलेगा। 16 मार्च से 31 मार्च तक दस्तक अभियान चलेगा। इस अभियान में आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों को संचारी रोगों के प्रति जागरूक करेंगी। दस्तक का शाब्दिक अर्थ है,
‘‘दरवाजा खटखटाना‘‘। दस्तक अभियान के जरिये विभिन्न संचारी रोगों तथा दिमागी बुखार संबंधित शिक्षा एवं व्यवहार परिवर्तन के संदेश गांव के हर एक घर और परिवार तक पहुँचाने का लक्ष्य है।इस अभियान में बुखार के रोगियों का निकटवर्ती सरकारी अस्पताल में त्वरित तथा सही उपचार कराए जाने पर विशेष बल दिया जाना है ।
यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. आलोक वर्मा ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय सभागार में आयोजित प्रशिक्षण कार्यशाला की बैठक में दी।
बैठक में राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियन्त्रण कार्यक्रम के नोडल एवं अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुरेन्द्र सिंह ने बताया इस अभियान में केवल चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ही नहीं बल्कि मत्स्य विभाग, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग, शिक्षा विभाग, पंचायती राज विभाग, जल निगम, पशु पालन विभाग, ग्राम्य विकास विभाग, स्वच्छता मिशन, कृषि एवं सिंचाई विभाग, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग भी इसमें शामिल हैं।
इस अभियान में सभी तहसील मुख्यालयों पर स्कूली बच्चों द्वारा प्रभात फेरी व रैली निकालकर लोगों को स्वच्छता व संचारी रोगों से बचाव के प्रति जानकारियाँ दी जाएंगी। साथ ही वेक्टरजनित बीमारियों जैसे-मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया को खत्म करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा फॉगिंग व एंटी लार्वा रसायन का छिड़काव भी किया जाएगा।
ग्रामीण क्षेत्रों में आशा, एएनएम द्वारा मातृ समूहों की बैठक पानी को क्लोरीन टैबलेट से साफ करने का, हाथ धोने का प्रदर्शन, खुले में शौच से मुक्ति, गंदगी व कूड़े के ढेर की सफाई तथा कूड़े का सही से निस्तारण के संबंध में व्यापक जन जागरूकता के कार्यक्रम किए जाएंगे।
इस अवसर पर सभी अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ पी के सिंह, डॉ राजशेखर, जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी राजकुमार, जिला मलेरिया अधिकारी अनिल मिश्रा, जिला एपिडेमोलॉजिस्ट डॉ विवेक सचान सहित सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के चिकित्सा अधीक्षक, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी, सभी ब्लॉक प्रोसेस मैनेजर व सम्बंधित विभागों के प्रतिनिधि उपस्थित थे ।